Tuesday, 17 February 2015

अखिल भारतीय शब्द प्रवाह साहित्य सम्मान/पुरस्कार 2015 घोषित

अखिल भारतीय शब्द प्रवाह साहित्य सम्मान/पुरस्कार 2015 घोषित


उज्जैन  ( म.प्र. ) साहित्यक संस्था शब्द प्रवाह साहित्य मंच उज्जैन द्वारा 2015 के अखिल भारतीय सम्मान और पुरस्कारों की घोषणा की गई । हिंदी साहित्य सेवा के लिए शब्द प्रवाह का शब्द साधक सम्मान श्री परमानंद शर्मा अमन (उज्जैन) को एवं श्रीमती सरस्वतीसिंह स्मृति सम्मान श्री इकबाल बशर (देवास) को प्रदान किया जाएगा । तथा साहित्य की विभिन्न विधाओं पर प्राप्त हुई पुस्तकों में से हिन्दी कविता के क्षेत्र में डॉ.मृदुला झा (मुंगेर, बिहार) की कृति "सतरंगी यादों का कारवाँ " लधुकथा के लिए श्रीमती ज्योति जैन( इंदौर) की कृति "बिजूका" एवं व्यंग्य के लिए श्री सदाशिव कौतुक (इंदौर) की कृति "भगवान दिल्ली में "को प्रथम पुरस्कार हेतु चयनित किया गया । रचनाकारों को यह पुरस्कार मार्च में आयोजित संस्था के वार्षिक समारोह में प्रदान किया जाएँगा ।
हिंदी कविता, लधुकथा और व्यंग्य के लिए द्वितीय, तृतीय और प्रोत्साहन पुरस्कार भी घोषित किए गये जिसकी सूची निम्न है –
कविता के लिए  (द्वितीय पुरस्कार) -कुछ तो बाकी रह गया - कुंवर विक्रमादित्य सिंह (देहरादून),हरियाली के आँसू - श्री भागवत प्रसाद काश्यप रसवंत (कोरबा),वही हमारा गॉव -श्री शिवानंद सिंह सहयोगी (मेरठ),बजरंग विरुदावली - श्री थम्मनलाल वर्मा (पीलीभीत),मौसम मन का - डॉ. शकुंतला तंवर (अजमेर),जीवन के स्वर - डॉ. सत्यप्रकाश मिश्र सजल नयन (नैनीताल़)
कविता के लिए (तृतीय पुरस्कार)समय के साथ साथ - श्री सत्यनारायण सत्य (रायपुर),प्राण पखेरू -डॉ. रधुनाथ मिश्र (कोटा),रेशमी धड़कने - श्री बैकुंठ नाथ (अहमदाबाद)
कविता के लिए (प्रोत्साहन पुरस्कार) अर्थ - श्रीमती वंदना सक्सेना (भोपाल) पगदण्डियों पर नंगे पाँव - श्री देवेन्द्रकुमार मिश्रा (छिंदवाड़ा)मन की उड़ान - सुश्री शारदा मिश्र (इंदौर) वृंदावन की ओर - श्री रामवीर सिंह वीर (मुरादाबाद)सूर्पणखा- श्री जयंती प्रसाद शर्मा (अलिगढ)दाग अच्छे है -श्री सतीशचंद्र शर्मा सुधांशु (बदायू)अंतर्मन - ई. अर्चना नायडू (जबलपुर)क्षणिकाओं का शतक - श्री जी.आर.के.रेड्डी (बेंगलूरू)पापा झूठ बोलते है - श्री ब्रजेश बडोले (खरगोन)शेष कुशल - श्री सुरेश कुशवाह तन्मय (जबलपुर)सृष्टि का आधार बेटी - श्री गोपाल कौशल (धार) समय के पंख - श्री शिवकुमार दुबे (इंदौर)बनूँ चंदन - डॉ शिवमंगलसिंह मंगल (लखनऊ)नये पंखों की उड़ान - श्रीमती आशा जाकड (इंदौर) अनुगुंज - श्रीमती तरुणा (पंचकूला)काव्य सुमन - श्रीमती चेतना उपाध्याय ( अजमेर)अंजुलि भर शब्द - डॉ निशा प्रकाश (पूर्णिया)
लधुकथा के लिए (द्वितीय पुरस्कार) छोटे-छोटे महायुद्ध - श्री संतोष परिहार (बुरहानपुर)
लघुकथा के लिए (तृतीय पुरस्कार)यहाँ सब चलता है - डॉ सुरेन्द्र गुप्त (अंबाला छावनी)
लधुकथा के लिए (प्रोत्साहन पुरस्कार)आईना - श्रीमती लाडो कटारिया ( गुड़गाँव)
व्यंग्य के लिए (द्वितीय पुरस्कार)रेखाओं के बीच - श्री माता प्रसाद शुक्ल (ग्वालियर)
व्यंग्य के लिए( तृतीय पुरस्कार)झूठ की चटनी - श्री सनातन कुमार वाजपेयी (जबलपुर) 

द्वितीय, तृतीय एवं प्रोत्साहन पुरस्कार के लिए चयनित कृतियों के रचनाकारों को प्रशस्ति पत्र डाक द्वारा आयोजन के पश्चात प्रेषित किए जाएँगे ।